सर्वनाम की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

सर्वनाम शब्द ‘सर्व + नाम’ से बना है। यहाँ पर ‘सर्व’ का अर्थ ‘सभी’ अर्थात् ऐसे शब्द जो सभी नामों के लिए प्रयुक्त हो सकते है, सर्वनाम कहलाते है।

सर्वनाम की परिभाषा

सामान्यतः संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्द सर्वनाम शब्द कहलाते है, जैसे-
1. मुकेश अच्छा लड़का है।
2. वह आठवीं में पढ़ता है।

पढ़ें :- संज्ञा की परिभाषा, भेद और उदाहरण

सर्वनाम के भेद

सर्वनाम छः प्रकार के होते हैं –

  1. पुरूषवाचक सर्वनाम
    • उत्तम पुरूषवाचक सर्वनाम
    • मध्यम पुरूषवाचक सर्वनाम
    • अन्यपुरूषवाचक सर्वनाम
  2. निश्चयवाचक सर्वनाम
  3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम
  4. संबंध वाचक सर्वनाम
  5. प्रश्नवाचक सर्वनाम
  6. निजवाचक सर्वनाम

पुरूषवाचक सर्वनाम

जो सर्वनाम बोलने वाले, सुनने वाले तथा किसी अन्य के लिए प्रयुक्त होता है, उसे पुरूषवाचक सर्वनाम कहते हैं। दूसरे शब्दों जिन सर्वनाम का प्रयोग वक्ता श्रोता या अन्य के लिए किया जाता है वह पुरुषवाचक कहलाता है। जैसे – मैं, तू, वह आदि।

उत्तम पुरूषवाचक सर्वनाम

संवाद के समय वक्ता जिन शब्दों का प्रयोग अपने स्वयं के लिए करता है, उन्हें उत्तम पुरुष कहते हैं। जैसे –
एकवचन – मैं, मेरा, मेरी, मेरे, मुझे, मुझसे, मैंने।
बहुवचन – हम, हमारा, हमारी, हमारे, हमें, हमसे, हमने।

मध्यम पुरूषवाचक सर्वनाम

संवाद के समय जिन शब्दों का प्रयोग श्रोता/सुनने वाले के लिए किया जाता है, उन्हें मध्यम पुरूषवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे –
एकवचन – तू, तेरा, तेरी, तेरे, तुझे, तूने, तुमने, तुमको
बहुवचन – तुम, तुम्हारा, तुम्हारी, तुम्हारे, तुम्हें।
आदरसूचक – आप, आपका, आपकी, आपके, आपने, आपसे।

अन्यपुरूषवाचक सर्वनाम

संवाद के समय जिसके बारे में बातचीत की जा रही है। दूसरे शब्दों में जिस सर्वनाम शब्दों के प्रयोग से वक्ता और श्रोता का संबंध ना होकर किसी अन्य का संबोधन प्रतीत हो। वहाँ अन्यपुरूषवाचक सर्वनाम है। जैसे –
एकवचन (निकट) – यह, इसका, इसकी, इसके, इसे, इससे।
एकवचन (दूर) – वह, उसका, उसकी, उसके, उसे उससे, उसने।
बहुवचन (निकट) – ये, इनका, इनकी, इनके, इन्हें, इनसे, इन्होंने।
बहुवचन (दूर) – वे, उनका, उनकी, उनके, उन्हें, उनसे, उन्होंने।
अन्य शब्द – आप, आपका, आपकी, आपके, अपने इत्यादि।

निश्चयवाचक सर्वनाम

जो सर्वनाम निकट या दूर की किसी वस्तु की ओर संकेत करे, उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे – यह, वह, ये, वे आदि।
यह पतंग है।
वह रो रहा है।
ये बिल्ली है।
वे घूमने गए हैं।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम

जिस सर्वनाम से किसी निश्चित व्यक्ति या पदार्थ का बोध नहीं होता, उसे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे – कोई, किसी, कुछ आदि।
कोई आ रहा है।
वहाँ पर कोई खडा है।
मुझे कुछ नहीं मिला।
यहाँ से कुछ गायब है।
बाहर कोई है।

संबंध वाचक सर्वनाम

वह सर्वनाम शब्द जो किसी वाक्य में प्रयुक्त संज्ञा अथवा सर्वनाम के संबंध का बोध कराएं उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं जैसे – जो, सो, उसी, जब, जैसा, जैसी, जितना, जितनी, उतना, उतनी, जिसका, जिसकी आदि।
जैसा बोओगे वैसा ही काटोगे।
जिसकी लाठी उसकी भैंस।
जैसी करनी वैसी भरनी।
वह कौन है, जो चिल्ला रहा था।

प्रश्नवाचक सर्वनाम

वाक्य में प्रयुक्त वह शब्द जिससे किसी व्यक्ति, वस्तु अथवा स्थान के विषय में प्रश्न किया जाए वहां प्रश्नवाचक सर्वनाम होता है। दूसरे शब्दों में जिस सर्वनाम से प्रश्न पूछें जाने का बोध, हो वहां पर प्रश्नवाचक सर्वनाम होता है। जैसे – कब, कैसे, क्या, कौन, कहां, आदि।
• तुम कहाँ जा रहे हो।
• यह काम कैसे करना है।
• तुम कल स्कूल क्यों नहीं आये थे।
• तुम्हे इतने सारे रूपये क्यों चाहिए।
• राम कहाँ रहता है।

निजवाचक सर्वनाम

जिन शब्दों का प्रयोग वक्ता स्वयं के लिए करता है, वे निजवाचक सर्वनाम कहलाते हैं। दूसरे शब्दों में जो सर्वनाम तीनों पुरूषों (उत्तम, मध्यम और अन्य) में निजत्व का बोध कराता है, उसे निजवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे – आप, स्वयं, स्वतः, अपना, अपनी, अपने इत्यादि।
मैं अपना कार्य खुद से ही कर लूँगा।
मेरी पत्नी अपना कार्य स्वतः करने में सक्षम है।
मैं कल अपने माता-पिता के साथ आऊंगा।
• वह मेरा दोस्त है।
• यह मेरी कार है।

सर्वनाम के उदाहरण

• मुझे घर जाना है। – उत्तम पुरूष वाचक
• सर्वनामकौन रो रहा है ? – प्रश्नवाचक सर्वनाम

• कोई रो रहा है। – अनिश्चयवाचक सर्वनाम

• किसी ने मुझसे पूछा, “आप यहाँ क्या पढ़ाते है ?” – अनिश्यचवाचक, उत्तम पुरूषवाचक, मध्यम पुरूष, प्रश्नवाचक सर्वनाम।

• नीचे जो बच्चा खड़ा है वह मेरा चचेरा भाई है। – संबंधवाचक, उत्तम पुरूषवाचक सर्वनाम।

• कोई किसी से कुछ नहीं कहेगा। – तीनों में अनिश्चय वाचक सर्वनाम है।

सर्वनाम पहचानने संबंधी विशेष नियम

सर्वनाम पहचानने संबंधी कुछ विशेष नियम निम्मलिखित हैं –

‘आप’ शब्द में सर्वनाम की पहचान करना

1. ‘आप’ शब्द में तीन सर्वनाम हो सकते हैं –
• मध्यम पुरूषवाचक सर्वनाम
• अन्य पुरूषवाचक सर्वनाम
• निज वाचक सर्वनाम

‘आप’ शब्द में सही सर्वनाम की पहचान करने के लिए निम्न तरीकों का इस्तेमाल कर सकते है

यदि ‘आप’ शब्द का प्रयोग ‘तू’ या ‘तुम’ शब्द के आदर के रूप में किया जा रहा हो। अंग्रेजी बनाने पर यदि इसके लिए ‘you’ शब्द का प्रयोग किया जा सकता हो तो वहाँ इसे मध्यम पुरुष वाचक सर्वनाम माना जाएगा, जैसे –

  • आप कहाँ रहते है ?
  • आप यहाँ बैठिए।
  • आप क्या लेंगे ?

यदि ‘आप’ शब्द अपनेपन के अर्थ को प्रकट करता है। अंग्रेजी बनाने पर इसके लिये Himself/ Herself/ Myself/Yourself/Ourself/Themselves जैसे शब्दों का प्रयोग किया जाता हो तो वहाँ इसे निजवाचक सर्वनाम मानना उचित रहेगा जैसे

  • वह आप ही चला जाएगा।
  • मैं आप ही खा लूँगा।

यदि ‘आप’ शब्द का प्रयोग किसी व्यक्ति का परिचय करवाने के लिए किया जाता है तो वहाँ इसे अन्य पुरूषवाचक सर्वनाम मानना चाहिए जैसे –

  • महात्मा गाँधी राष्ट्रपिता थे। आप अहिंसा के पुजारी थे।
  • पंडित नेहरू देश के प्रथम प्रधानमंत्री थे। आप कुशल वक्ता थे।

2. ‘वह/वे’ शब्द में सही सर्वनाम की पहचान करना

इन शब्दों का प्रयोग भी निम्न तीन सर्वनामों में किया जाता है –

1. निश्यच वाचक सर्वनाम
2. अन्य पुरूषवाचक सर्वनाम
3. सह-संबंध वाचक सर्वनाम

• ये शब्द (वह/वे) प्रायः किसी की ओर संकेत करने के लिए प्रयोग किए जाते है। यदि संकेतित पदार्थ बन शब्दों के तुरंत बाद लिखा हो तो वहाँ इन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम मानना चाहिए। इसके साथ-साथ सर्वनामिक या संकेत वाचक विशेषण भी माना जा सकता है।

• यदि संकेतित पदार्थ का वाक्य में कहीं भी उल्लेख न हुआ हो तो वहाँ इसे अन्यपुरूषवाचक सर्वनाम मानना चाहिए।

• यदि इन शब्दों का प्रयोग योजक शब्द के रूप में हुआ हो तो वहाँ इनको सह-संबंध वाचक सर्वनाम मानना चाहिए।

  • वह बालक बड़ा शैतान है। – निश्चय/सार्वनामिक वि.
  • वह पुस्तक बहुत अच्छी है। – निश्चय/सर्वनामिक वि.
  • वह कुर्सी नई है। – निश्चय/सार्वनामिक वि.
  • वह खाना खा रही है। – अन्य पुरूषवाचक सर्वनाम
  • नीचे जो महिला खड़ी है वह हमारी कक्षाध्यापिका है। – सह-संबंधवाचक सर्वनाम
  • वे लोग बहुत अच्छे है। – निश्चय सर्वनाम/सार्वनामिक वि.
  • वे घूमने जा रहे हैं। – अन्य पुरूषवाचक सर्वनाम
  • जिन-जिन को बुलाया था वे सभी आ चुके है। – सह संबंध वाचक सर्वनाम

Leave a Comment